INDIA का फुल फॉर्म क्या होता है?

INDIA: द इंडिपेंडेंट नेशन डिक्लेयर्ड इन अगस्त (the Independent Nation Declared in August)

Spread the love

तो आप INDIA शब्द का पूर्ण रूप (full form) ढूंढ रहे हैं, और अभी तक नहीं मिला है? ठीक है, क्योंकि INDIA शब्द का कोई फुल फॉर्म नहीं है। वास्तव में यह एक संक्षिप्त रूप नहीं है, यही कारण है कि यह किसी भी फुल फॉर्म के अर्थ को संदर्भित नहीं करता है।

तो फिर INDIA शब्द क्या है?

भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक और दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला देश है। यह दक्षिण-पूर्व एशियाई देश है।

हालाँकि INDIA शब्द एक संक्षिप्त रूप नहीं है और इसका मतलब फुल फॉर्म से नहीं है। फिर भी, इस शब्द INDIA से कुछ अर्थ निकलते हैं। यहाँ कुछ रोचक पूर्ण रूप या भारत के लिए अर्थ हैं –

INDIA- द इंडिपेंडेंट नेशन डिक्लेयर्ड इन अगस्त- the Independent Nation Declared in August (भारत को अगस्त 1947 में आजादी मिली)

india ka full form
india ka full form

INDIA शब्द कहां से आया?

इस देश के नाम के रूप में स्वीकार किए जाने से पहले INDIA शब्द ने प्रगति देखी थी। प्राचीन समय में सिंधु एक पवित्र नदी थी और यह नाम दुनिया की सबसे पुरानी सभ्यता ‘सिंधु घाटी सभ्यता’ पर आधारित था। सिंधु संस्कृत शब्द “सिंधु” को संदर्भित करता है जिसे फारसियों द्वारा “हिंदू” के रूप में उच्चारण किया गया था।

इस प्रकार भारत शब्द सिंधु नदी के नाम से लिया गया था। यह नाम यूरोप में तब से लोकप्रिय हो गया जब यूनानियों ने सिंधु को इंडोई कहा जो भारत में बदल गया।

इसलिए इस नाम के लिए एक बड़ी प्रगति हुई और इस लोकप्रिय एशियाई देश “हिंदुस्तान” का अंग्रेजी नाम बन गया।

भारत का भूगोल

भारत एशियाई महाद्वीप के दक्षिण-पूर्व में स्थित है। यह विविध वातावरण से आच्छादित है। यह दक्षिण-पूर्व में बंगाल की खाड़ी और दक्षिण-पश्चिम में अरब सागर को छूती है। भारत दक्षिण में हिंद महासागर से मिला हुआ है।

भारत को दुनिया का सातवां सबसे बड़ा देश माना जाता है। भारत एक उपमहाद्वीप राष्ट्र है जिसमें 28 राज्य और 8 केंद्र शासित प्रदेश हैं।

भारत की अर्थव्यवस्था

भारत को एक कृषि प्रधान देश कहा जाता है क्योंकि 70% आबादी कृषि क्षेत्र जैसे कि खेती और फूलों की खेती में काम करने के लिए लगी हुई है। पावर पैरिटी खरीद कर भारत दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था है। इसके अलावा, नॉमिनल ग्रॉस डॉमेस्टिक प्रोडक्ट (जीडीपी) द्वारा भी भारत दुनिया की पांचवीं अग्रणी अर्थव्यवस्था है।

भारतीय राजनीति

भारत को लोकतंत्र की उदार नीतियों, संविधान और आदरणीय संसद के कारण दुनिया में सबसे बड़े लोकतांत्रिक राष्ट्र के रूप में जाना जाता है।

भारतीय संविधान सबसे विविध सांस्कृतिक राष्ट्र होने के बाद भी किसी धर्म या संस्कृति पर दबाव नहीं डालता है।

INDIA एक बहु राजनीतिक पार्टी राष्ट्र है। इसमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (कांग्रेस) जैसे आठ प्रसिद्ध राष्ट्रीय दल हैं। राष्ट्रीय दलों के अलावा भारत 40 से अधिक क्षेत्रीय राजनीतिक दलों का देश है।

भारत को किसने खोजा?

15 वीं शताब्दी में, एक यूरोपीय और पुर्तगाली खोजकर्ता वास्को डी गामा भारत पहुंचे। वह भारत को पाने वाले पहले यूरोपीय बने।

वास्को ने अटलांटिक महासागर के माध्यम से भारत का यात्रा किया, और जब वह मालाबार तट पर कालीकट पहुंचे।

भारत किस लिए जाना जाता है?

INDIA एक विविध देश है और दुनिया भर में विभिन्न चीजों के लिए जाना जाता है। यहाँ सबसे लोकप्रिय बात भारत के लिए मान्यता प्राप्त है –

  • भारत का स्वादिष्ट भोजन
  • रंगीन और सार्थक त्यौहार
  • परंपरा और धार्मिक भावनाएँ
  • आध्यात्मिक विचार और ज्ञान
  • आयुर्वेद और योग
  • सबसे बड़ी फिल्म इंडस्ट्री बॉलीवुड
  • प्राचीन लेकिन सबसे अधिक नियोजित ट्रेन नेटवर्क
  • बड़ी आबादी
  • सहायक और प्रगतिशील दिमाग वाले लोग
  • बहुत तेजी से उभरती हुई अर्थव्यवस्था

INDIA के बारे में मजेदार और रोचक तथ्य

  • भारत में दुनिया का सबसे बड़ा डाकघर नेटवर्क है
  • भारत दुनिया का पांचवा सबसे बड़ी कार मैन्युफैक्चरर देश बन गया है
  • भारत में सबसे बड़ा ट्रेन नेटवर्क है जो सबसे बड़ा रोजगार क्षेत्र भी है
  • भारत भाईचारे और अखंडता के कानून का पालन करता है, यही कारण है कि पिछले एक से अधिक वर्षों से इसने किसी भी देश पर आक्रमण नहीं किया
  • भारतीय लगभग 5000 साल पहले दुनिया में स्थिर सभ्यता का परिचय देने वाले अग्रणी थे, जबकि अन्य क्षेत्र अभी भी खानाबदोशों के रूप में भटक रहे थे
  • बीजगणित, त्रिकोणमिति और कलन के रूप में लोकप्रिय गणित अध्ययन भारत में खोजा गया था
  • प्रसिद्ध बोर्डगेम शतरंज एक भारतीय आविष्कार था
  • भारत दुनिया में सबसे अधिक डाकघरों का मालिक है
  • लोकप्रिय इनडोर बोर्ड गेम सांप और सीढ़ी को पहले मोक्षपट ’के नाम से जाना जाता था और इसकी उत्पत्ति 13 वीं शताब्दी में भारतीय संत ज्ञानदेव ने की थी
  • भारत दुनिया की सबसे प्राचीन सभ्यता में से एक है
  • गायों को पवित्र माना जाता है, और भारत में उनकी पूजा की जाती है
  • भारत का चिनाब पुल दुनिया का सबसे ऊंचा रेल पुल है
  • भारत दुनिया का सबसे युवा देश है, जहां लगभग 65 प्रतिशत आबादी 15-59 वर्ष की आयु वर्ग में आती है
  • क्या आप जानते हैं कि ऑस्ट्रेलिया की जनसंख्या के बराबर लोग, हर दिन भारतीय रेलवे में सफर करते हैं (ऑस्ट्रेलिया की जनसंख्या 25 मिलियन है, और भारत रेलवे के दैनिक यात्री 23 मिलियन हैं)
  • आज दुनिया की शायद ही कोई ऐसी बड़ी टेक्निकल कंपनी हो, जिसके सबसे ऊंचे ओहदे पर भारतीय ना हो
    चाहे बात गूगल की हो, फेसबुक की हो, लिंकडइन की हो, या माइक्रोसॉफ्ट की हो, हर जगह भारतीयों ने अपनी पहचान बनाई है
  • वैसे तो कई लोग मानते हैं कि इंडिया के ज्यादातर लोग हिंदी बोलने वाले हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि पूरी दुनिया में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा 125 मिलियन इंग्लिश बोलने वाले लोग भारतीय हैं

10 महत्वपूर्ण उपहार इंडिया ने दुनिया को दिए

भारत और भारतीयों ने टेक्नोलॉजी, शिक्षा, स्वास्थ्य के क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण आविष्कार किए, जिनमें से कुछ प्रमुख निम्न है-

  1. दुनिया की सबसे पहली यूनिवर्सिटी तक्षशिला यूनिवर्सिटी इंडिया में थी और यह 700 BC में भारत के नॉर्थ वेस्ट part में चल रही थी, जिसमें उस समय 10000 से ज्यादा छात्र और 200 से ज्यादा प्रोफ़ेसर थे
  2. नंबर 0 की शुरुआत इंडिया से हुई, जिसके कारण arithmetic आज इतना आगे पहुंच पाया
  3. वैशाली दुनिया का पहला गणतंत्र था, जिसने पूरी दुनिया को गणतंत्र का मतलब समझाया
  4. शैंपू का आविष्कार इंडिया के शेख दीन मोहम्मद द्वारा ब्रिटेन में 1762 में की गई
  5. यूएसबी का आविष्कार भारतीय अमेरिकन कंप्यूटर आर्किटेक्ट अजय भट्ट द्वारा किया गया
  6. आयुर्वेद की शुरुआत इंडिया से ही हुई जिसे आज पूरी दुनिया अपना रही है
  7. बटन, जिसका प्रयोग आज पूरी दुनिया के लोग अपने वस्त्र में करते हैं, का पहला उपयोग भारतीयों ने ही सदियों पहले की थी
  8. एस्ट्रोलॉजिकल नॉलेज की मदद से भारतीयों ने सातवीं सदी में ही पृथ्वी के द्वारा सूर्य के चक्कर लगाने में लिए जाने वाले समय की सही गणना कर दी थी
  9. चेस खेल जिसे पूरी दुनिया में लोग दिमाग को तेज करने वाला खेल बताते हैं कि शुरुआत इंडिया से ही हुई है
  10. बौद्ध और जैन धर्म जो आज पूरी दुनिया के कई देशों में बहुत प्रचलित है कि शुरुआत भी इंडिया से ही हुई

इंडिया के बारे में कुछ दुखद वास्तविकताएँ

भारत आज दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में से एक है और आज टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भारत के योगदान को पूरी दुनिया लोहा मान रही है

हमने स्वास्थ्य, शिक्षा, टेक्नोलॉजी, स्वच्छता आदि में बहुत तरक्की की है, लेकिन कुछ ऐसे बिंदु भी हैं जिन्हें हर भारतीय को जानना चाहिए और हम सभी को अपना योगदान देना चाहिए ताकि यह कुछ दुखद बातें जो भारत के साथ जुड़ी हैं, उससे हम अपने देश को छुटकारा दिला सके –

  • 117 देशों के बीच बने हंगर इंडेक्स में भारत 102 नंबर पर है जोकि बहुत ही खराब रैंकिंग है, यहां तक कि हमारा पड़ोसी मुल्क बांग्लादेश का रैंकिंग (88th) हमसे बेहतर है (2019 ranking)
  • भारत के अमीर और गरीब लोगों के बीच का अंतर बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है, आप अमीरों और गरीबों के बीच की खाई को इसी बात से समझ सकते हैं, कि भारत के 63 billionaires के पास 2018 में, देश की कुल यूनियन बजट से ज्यादा संपत्ति थी
  • भारत में आज भी साक्षरता दर 75% के करीब ही है
  • भारत में प्रेस की स्थिति कितनी खराब है इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि 180 देशों के बीच बने प्रेस फ्रीडम इंडेक्स में भारत की रैंकिंग 142 है
  • भारत में किसानों की हालत बहुत खराब है और भारत सरकार द्वारा संसद में दिए गए आंकड़े के अनुसार 2020 में 10281 किसानों ने खेती में आने वाली परेशानियों के कारण आत्महत्या कर ली
  • आज भी भारत में बहुत बड़ी संख्या में लोग लड़के और लड़कियों में फर्क करते हैं जिसके कारण बहुत सारी बच्चियों को गर्भ के दौरान ही मार दिया जाता है
  • महिलाओं के लिए सुरक्षित देश की रैंकिंग के अनुसार 167 देशों के बीच भारत की रैंकिंग 133 है जो बहुत ही खराब है

इसी तरह के फुल फॉर्म

ओके फुल फॉर्म

कंप्यूटर फुल फॉर्म

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe to our newsletter to get latest updates and news

We keep your data private and share your data only with third parties that make this service possible. See our Privacy Policy for more information.

We keep your data private and share your data only with third parties that make this service possible. See our Privacy Policy for more information.